Monday, August 22, 2016

Struggle Hindi Motivational Story

 on  with No comments 
In , ,  
                         संघर्ष 
       Hindi Motivational Story
www.achhesandesh.in

एक बार की बात है जीव विज्ञान के एक अध्यापक छात्रों को विद्यालय में पढ़ा रहे थे सुंडी तितली में कैसे परिवर्तित हो जाती है। उन्होंने छात्रों को समझाया की कुछ समय के पश्चात् तितली अपनी खोल से बाहर निकलने की कोशिश  करेगी। उन्होंने छात्रों को ये भी कहा की कोई इस तितली की नहीं करेगा। इतना कहने के बाद वह कुछ काम से बाहर चले गए।

छात्र इंतज़ार कर रहे थे की तितली खोल से बाहर कब निकलेगी। तभी तितली खोल से बाहर निकलने के लिया संघर्ष करने लगी। एक छात्र को उस तितली पर दया आ गयी। उस छात्र से तितली का ये संघर्ष देखा नहीं गया और उस छात्र ने तितली की मदद करने का निर्णय लिया। उसने खोल को तोड़ दिया , जिस वजह से तितली आसानी से खोल से बाहर आ गयी। किन्तु कुछ समय बाद ही वह तितली मर गयी।

वापस लौटने पर शिक्षक को सारी बात पता चली। तब उन्होंने छात्रों को बताया की खोल से बाहर आने के लिया तितली को जो संघर्ष करना पड़ता है, उसी संघर्ष की वजह से उसके पंखो को मजबूती और शक्ति मिलती है। यही प्रकृति का नियम है। तितली की मदद करके छात्र ने उस तितली को संघर्ष करने का मौका नहीं मिला। नतीजा यह हुआ की वह तितली मर गई।

हमारी ज़िन्दगी में भी यही नियम लागू होता है। ज़िन्दगी में कोई भी कीमती चीज बिना संघर्ष के नहीं मिलती। उम्मीद करती हूँ की इस कहानी के माध्यम से आपको संघर्ष का महत्व पता चला होगा। उम्मीद करती हूँ की आपको ये Hindi Motivational Story पसंद आयी होगी।

Tags-Hindi motivational story, Inspirational Story, Life story
Share:

0 comments:

Post a Comment